शुक्र करां मैं ओम जी त्वाडा शुक्र करां

शुक्र करां मैं ओम जी त्वाडा शुक्र करां

मैं कागज़ दी बेडी रब्बा
तू मेनू पार लंघाया
शुक्र करां मैं तेरा हरदम
मैं जो मंगया सो पाया

शुक्र करां मैं ओम जी त्वाडा शुक्र करां
शुक्र करां मैं ओम जी त्वाडा शुक्र करां

तुसां लगीयां तोड़ निभाईयां त्वाडा शुक्र करां
शुक्र करां मैं ओम जी त्वाडा शुक्र करां
शुक्र करां मैं ओम जी त्वाडा शुक्र करां
तुसां लगीयां तोड़ निभाईयां त्वाडा शुक्र करां
तुसां लगीयां तोड़ निभाईयां त्वाडा शुक्र करां

हर बार बुलाया शुक्र करां
चरणां विच लाया शुक्र करां
दोशां नू भुलाया शुक्र करां
आपे अपनाया शुक्र करां
अहंकार मिटाया शुक्र करां
देके ना जताया शुक्र करां
धीरज उपजाया शुक्र करां
सानू पार लगाया……..

शुक्र करां मैं ओम जी त्वाडा शुक्र करां
तुसां लगीयां तोड़ निभाईयां त्वाडा शुक्र करां

दिन रात मैं तेरा शुक्र करां
पल-पल मैं तेरा शुक्र करां
जद होवे हनेरा शुक्र करां
जद होवे सवेरा शुक्र करां
सुख-दुख सब तेरा शुक्र करां
कुछ नहीं मेरा शुक्र करां
कण कण विच तेरा शुक्र करां
दिस दा है बसेरा…….

शुक्र करां मैं ओम जी त्वाडा शुक्र करां
तुसां लगीयां तोड़ निभाईयां त्वाडा शुक्र करां

दुनिया दा सहारा शुक्र करां
सुखियां नु प्यारा शुक्र करां
जद जद दिल हारा शुक्र करां
तेनु ही पुकारां शुक्र करां
संसार है सारा शुक्र करां
दिलजान मैं वारा शुक्र करां
नंदाचौर दा नज़ारा शुक्र करां
स्वर्गा तो वी प्यारा……

शुक्र करां मैं ओम जी त्वाडा शुक्र करां
तुसां लगीयां तोड़ निभाईयां त्वाडा शुक्र करां

करां मैं ओम जी त्वाडा शुक्र करां

Author Info

OmNandaChaur Darbar

The only website of OmDarbar which provide all information of all Om Darbars
%d bloggers like this: