Darshan

मेरे गुरां द्वारा, है द्वारा रब दा

मेरे गुरां द्वारा, है द्वारा रब दा

मेरे गुरां द्वारा, है द्वारा रब दा,
जिन्हें देखेया ना, देखलो नज़ारा रब दा ।
जित्थे गुरां दे प्यारियां दा वास हुंदा हैं ,
सच्च जानों ओथे रब दा निवास हुंदा हैं
मेरे गुरां दा इशारा, है इशारा रब दा ।
जिन्हें देखेया ना, देखलो नज़ारा रब दा ।
ऐथे चक्कर चौरासी वाले, कटटे जांदे ने,
ऐथे पापां दे तूफान, आके रूक जांदे ने,
मेरे गुरां दा सहारा, हैं सहारा रब दा ।
जिन्हें देखेया ना, देखलो नज़ारा रब द ।।
मेरे गुरां दा द्वारा है द्वारा रब दा,
जिन्हें देख्या न देख लो नज़ारा रब दा।

Author Info

OmNandaChaur Darbar

The only website of OmDarbar which provide all information of all Om Darbars
%d bloggers like this: